Sustain Humanity


Sunday, February 21, 2016

तीसरे लड़के नें सोनी से कहा कि तुम मारडूम वाली घटना को क्यों उठा रही हो उस लड़के नें आगे कहा कि आज के बाद आई जी साहब के बारे में बोलना बंद कर दो आज तो हम सिर्फ तुम्हारे मुंह पर काला रंग लगा रहे हैं इसके बाद अगर तुम नहीं मानी तो तुम्हारी बेटी के साथ वो अंजाम करेंगे कि तुम खुद ही किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहोगी इसके बाद उस लड़के नें सोनी के चेहरे पर एक काला पदार्थ पोत दिया इसके बाद वो तीनों हमलावर अपनी गाड़ी स्टार्ट करके जगदलपुर की तरफ भाग गए

   
Himanshu Kumar
February 21 at 11:35am
 
सोनी सोरी जगदलपुर शालिनी और ईशा से मिलने गयी थी . 

ईशा और शालिनी मानवाधिकार वकील हैं . 

ईशा और शालिनी को पुलिस के दबाव की कारण जगदलपुर छोडना पड़ रहा है 

ये दोनों महिला वकील जगदलपुर छोड़ कर जारही थीं 

इसलिए सोनी सोरी, ईशा और शालिनी से मिलने जगदलपुर आयी थी 

रात के नौ बज चुके थे . 

अभी ईशा और शालिनी की बस का समय नहीं हुआ था . 

सोनी नें कहा कि काफी रात हो गयी है 

अब मैं वापिस अपने घर गीदम के लिए निकलती हूँ 

सोनी सोरी मोटर साइकल पर जगदलपुर से लगभग सवा नौ बजे गीदम के लिए निकली 

सोनी सोरी की मोटर साईकिल रिंकी नामकी एक लड़की चला रही थी 

जगदलपुर से गीदम की दूरी 85 किलोमीटर है 

गीदम से लगभग बीस किलोमीटर पहले बास्तानार घाटी शुरू होते ही 

एक मोटर साईकिल पर तीन लड़के पीछे से आये 

एक लड़के नें कहा सोनी मैडम ज़रा मोटर साईकिल रोकिये आपसे कुछ ज़रूरी काम है 

सोनी नें गाड़ी नहीं रुकवाई 

मोटरसाइकिल सवार हमलावर लड़कों नें अपनी मोटर साईकल सोनी की मोटर साईकिल के आगे ले जाकर रोक दी 

सोनी की मोटर साईकिल को रुकना पड़ा . 

उस मोटर साईकिल से तीन लडके फटाफट उतरे और उनमें से एक नें सोनी की मोटर साईकिल चलाने वाली लड़की रिंकी को पकड़ कर खींच कर दूर ले गया 

और चाकू निकाल कर बोला कि खबरदार जो यहाँ से हिली तो चाकू से पेट फाड़ दूंगा 

बचे हुए दो लड़कों में से एक लड़के नें सोनी की दोनों बाजू पीछे खीच कर कस कर पकड़ लीं 

तीसरे लड़के नें सोनी से कहा कि तुम मारडूम वाली घटना को क्यों उठा रही हो 

उस लड़के नें आगे कहा कि आज के बाद आई जी साहब के बारे में बोलना बंद कर दो 

आज तो हम सिर्फ तुम्हारे मुंह पर काला रंग लगा रहे हैं 

इसके बाद अगर तुम नहीं मानी तो तुम्हारी बेटी के साथ वो अंजाम करेंगे कि तुम खुद ही किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहोगी 

इसके बाद उस लड़के नें सोनी के चेहरे पर एक काला पदार्थ पोत दिया 

इसके बाद वो तीनों हमलावर अपनी गाड़ी स्टार्ट करके जगदलपुर की तरफ भाग गए 

सोनी सोरी मोटर साईकिल से गीदम पहुँची 

तब तक उनका चेहरा बुरी तरह जलने लगा था 

लिंगा कोडोपी और सोनी के परिवारजन सोनी सोरी को लेकर गीदम के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में पहुंचे 

वहाँ मौजूद डाक्टर नें सोनी के चेहरे पर कोई दवा लगाईं 

लेकिन सोनी को चेहरे और आँखों में बहुत तेज जलन हो रही थी 

इसके बाद सोनी को जगदलपुर मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया गया 

करीब एक बजे सोनी सोरी जगदलपुर मेडिकल अस्पताल पहुँची 

अभी सोनी के चेहरे की जलन कम है 

लेकिन सोनी की ऑंखें नहीं खुल रही हैं

--
Pl see my blogs;


Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!