Sustain Humanity


Monday, February 8, 2016

Tea Monopoly in railway!मोबाइल से करिए ऑर्डर, ट्रेन की सीट पर मिलेगी चाय, रेलवे देगी 10 फीसदी का कैश-बैक!


ashish k Singh just sent the mail! 

It is going to be Tea Monopoly in railway!
मोबाइल से करिए ऑर्डर, ट्रेन की सीट पर मिलेगी चाय, रेलवे देगी 10 फीसदी का कैश-बैक

रेलवे में ई-कैटरिंग को बढ़ावा देने के लिए आईआरसीटीसी ने 300 रुपये या
इससे ज्यादा के खाने-पीने के ऑर्डर पर 10 फीसदी का कैशबैक देने का फैसला
किया है। उधर दूसरी तरफ स्टेशन और ट्रेन के भीतर गर्मागर्म चाय मुहैया
कराने के लिएआईआरसीटीसी ने प्रमुख चाय कैफे श्रंखला चायोज के साथ समझौता
किया है।

जहां तक ई-कैटरिंग कैश बैक ऑफर की बात है तो ये सिर्फ आईआरसीटीसी के जरिए
300 रुपये या इससे ज्यादा की कीमत के फू़ड ऑर्डर पर लागू है। कैश-बैक का
फायदा लेने के लिए उपभोक्ता को पेमेंट गेटवे का इस्तेमाल करके एडवांस में
ही भुगतान करना होगा। ऑर्डर को आंशिक रुप से या पूर्ण रुप से रद्द किए
जाने या बुकिंग राशि 300 रुपये से कम होने पर कैश-बैक ऑफर मान्य नहीं
होगा। कैश-बैक भी भोजन की डिलीवरी की तारीख के बाद ही किया जाएगा।
कैश-बैक का भुगतान भी उसी व्यक्ति के खाते में किया जाएगा जिसने
ई-कैटरिंग पर ऑर्डर बुक कराया होगा।

कैश-बैक के साथ ही दूसरी अच्छी खबर ये है कि आईआरसीटीसी और चायोज के बीच
हुए करार के बाद ट्रेन में यात्रा कर रहे रेलयात्री अब अपनी सीट पर बैठे
बैठे आईआरसीटीसी की वेबसाइट www.ecatering.irctc.co.in पर जाकर चाय और
नाश्ते ऑर्डर दे सकेंगे। यात्रियों को चाय-नाश्ते का ऑर्डर देने की
सुविधा एक टोल फ्री नंबर  (1800-1034-139) पर भी दी गई है। आईआरसीटीसी ने
एक मौबाइल एप्लीकेशन भी शुरू किया है जिससे चाय का ऑर्डर दिया जा सकता
है।

चायोज कंपनी 25 तरीके की चाय ऑफर करती है। कंपनी का दावा है कि ये चाय
12000 तरह से खास तौर पर बनाई जा सकती हैं। इसमें विभिन्न पदार्थों को
डालकर बनाई गई देसी चाय से लेकर आम पापड़ चाय और हरी मिर्च चाय जैसी
दिलचस्प चाय भी शामिल हैं। चाय के साथ ही चायोज बड़ा पाव, कीमा पाव, बन
मस्का और समोसे जैसे स्नैक्स भी ऑफर करती है।

चायोज के साथ आईआरसीटीसी का ये करार पहले-पहल नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से
गुजरने वाली सभी ट्रेनों में चाय-नाश्ता देने के लिए किया गया है। लेकिन
जल्द ही इसका विस्तार दिल्ली और मुंबई रेलवे स्टेशन के साथ-साथ देश के
दूसरे रेलवे स्टेशनों के लिए भी किया जाएगा।

--
Pl see my blogs;


Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!