Sustain Humanity


Saturday, June 18, 2016

बांग्‍लादेशः लाखों मुस्लिम बुद्धिजीवियों ने आतंकवाद के खिलाफ जारी किया फतवा Reporter : ArunKumar, RTI NEWS


बांग्‍लादेशः लाखों मुस्लिम बुद्धिजीवियों ने आतंकवाद के खिलाफ जारी किया फतवा


Reporter ArunKumarRTI NEWS



ढाकाः बांग्‍लादेश में शनिवार को राजधानी ढाका में समूचे देशभर से एक लाख से अधिक इस्‍लामी बुद्धिजीवियों द्वारा आतंकवाद विरोधी हस्‍ताक्षर वाला फतवा जारी किया गया। इसमें आतंकवाद और आत्‍मघाती हमलों को इस्‍लामी कानून के अनुसार हराम घोषित किया गया। दस्‍तावेज में हिंसा से कट्टरपंथ और आतंकवाद को कम करने के लिए 9000 से अधिक महिला उलेमाओं और मुफतियों ने 30 से अधिक पृष्‍ठ वाले इस दस्‍तावेज पर हस्‍ताक्षर किए हैं।

मानव कल्याण के लिए अपराध और आतंकवाद विरोधी शांति फतवा- नाम के इस फतवे का काम शोलाकिया में पिछले वर्ष दिसंबर में बांग्लादेश की सबसे बड़ी ईद मण्डली जमातुल उलेमा के अध्यक्ष इमाम फरीद उद्दीन मसूद, ने शुरू किया था। 

फतवा एक इस्लामी विचारधारा है, जिस पर विद्वान संयुक्त बैठक में व्याख्या करके कानून के रूप में उस विचार को लागू करते हैं। कट्टरपंथी इस्‍लामिक तत्‍वों द्वारा हिंसा की कुछ घटनाओं के बाद पिछले वर्ष जनवरी के शुरू में एक उलेमा सम्मेलन में इस पहल के लिए समर्थन जुटाना शुरू किया गया था। सूत्रों ने अनुसार इस फतवे की प्रतियां प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, इस्लामी सहयोग संगठन और संयुक्त राष्ट्र के लिए भेजी जाएंगी।       

भारत ने पुजारी हत्या का उठाया मुद्दा
वहीं भारत ने ढाका में संदिग्ध आतंकवादियों से रामाकृष्ण मिशन के एक पुजारी को हत्या की धमकी मिलने का मामला बांग्लादेश के समक्ष उठाया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कल बताया कि ढाका में भारतीय उच्चायोग ने बांग्लादेश की पुलिस और विदेश मंत्रालय से संपर्क किया और उन्हें पूरी सहायता और सुरक्षा का आश्वासन दिया गया। श्री विकास स्वरूप ने कहा कि भारतीय उच्चायोग रामाकृष्ण मिशन से साथ संपर्क में है। उन्होंने कहा कि मिशन में पुलिस की तैनाती बढ़ा दी गई है।

संदिग्ध इस्लामिक आतंकवादियों ने हाल के महीनों में धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओ और अन्य अल्पसंख्यकों की हत्या की है। इसके कारण बांग्लादेश में आतंकवादियों की धरपकड़ के लिए राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया गया है।  
--
Pl see my blogs;


Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!